किच्छा से राहुल गाँधी दहाड़े, पीएम मोदी पर साधा बड़ा निशाना, कही ये बड़ी बात

कांग्रेस के नेता और पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज उधम सिंह नगर के किच्छा से उत्तराखंड की जनता को संबोधित किया कांग्रेस नेता एवं पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि आज नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री नहीं हैं। वह राजा हैं। राजा किसी की बात नहीं सुनता। प्रधानमंत्री ही लोगों की बात सुनता है। राहुल गांधी आज यानी पांच फरवरी को उत्तराखंड के किच्छा में किसान सम्मान रैली को वर्चुअल रैली को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने किसान आंदोलन के बहाने पीएम नरेंद्र मोदी पर जोरदार हमला किया।

साथ ही उन्होंने किसानों और मजदूरों को साधते हुए ये बताने का प्रयास किया कि कांग्रेस की सरकार ही विकास को गति दे सकती है।कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सबसे पहले देश के सब किसानों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि बधाई इस बात की है कि आप इन तीन कानूनों के खिलाफ पत्थर जैसे पहाड़ जैसे खड़े हो गए और आपने एक ईंच इनको नहीं दिया। कोई समझोता नहीं किया। एक कदम पीछे नहीं हटे और हिंदुस्तान की सरकार को सच्चाई दिखाई। ये आपका इतिहास है। आप सिर्फ देश को भोजन नहीं देते हो, आप देश को रास्ता दिखाते हो। सालों से आप देश को रास्ता दिखा रहे हो। अंग्रेजों से लड़ाई बड़े बड़े उद्योगपतियों ने नहीं लड़ी।

किसानों और मजदूरों ने लड़ी। इसके बाद हरित क्रांति आई। कांग्रेस ने किसानों के साथ पार्टनरशिप बनाकर हरित क्रांति लाई। खून पसीना किसानों का लगा।
उन्होंने कहा कि आपने देश की सरकार को बताया कि हिंदुस्तान की सच्चाई से हम नहीं हटने वाले हैं। आम हमें न खरीद सकते हो, ना डरा सकते हो। इस सरकार को ये समझाना बहुत जरूरी था और है। पार्लियामेंट में अपने भाषण में मैने कहा कि दो हिंदुस्तान बन रहे हैं। एक अमीरों का हिंदुस्तान, प्राइवेट हवाई जहाज, सेवन स्टार होटल, अमीर लोगों का हिंदुस्तान, उसमें कानून से भी कोई लेना देना नहीं। कुछ भी कर दो। चुने लोगों का हिंदुस्तान। हिंदुस्तान में सौ लोगों के पास हिंदुस्तान के 40 प्रतिशत लोगों से ज्यादा धन है। ऐसी इंकम डिस्पेरिटी किसी और देश में नहीं है। दूसरा हिंदुस्तान, गरीब, किसान, मजदूरों का है। उसमें आपको रोजगार नहीं मिलेगा। आपकी जमीन छीनी जाएगी। पेट्रोल के दाम बढ़ते जाएंगे। महंगाई बढ़ती जाएगी। दो हिंदुस्तान हम नहीं चाहते। हम एक हिंदुस्तान चाहते हैं। न्याय हिंदुस्तान में होना चाहिए।उन्होंने कहा कि हम किसानों के साथ खड़े रहे क्योंकि उनके साथ अन्याय हुआ। मनमोहन सिंह के समय गोल्डन पीरिएड इसलिए था कि उस समय किसानों और सरकार के बीच बातचीत थी। सरकार के सारे दरवाजे खुले थे। कभी सहमति व असहमति होती थी।

उस समय के हिंदुस्तान में प्रधानमंत्री था। आज के हिंदुस्तान में राजा है। प्रधानमंत्री सुनता है। प्रधानमंत्री के दरवाजे किसान, मजदूरों के लिए खुले होते हैं। वो सुनता है। कभी कभी कह सकता है कि मैं तुम्हारी बात नहीं मानता, तुम गलत कह रहे हो। जब लोग सही बात कहते हैं, तो प्रधानमंत्री कहता है सही बात कह रहे हो। और अगर प्रधानमंत्री सबके लिए काम नहीं करता है, तो वो प्रधानमंत्री नहीं होता। आज नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री नहीं है। हिंदुस्तान के किसान एक साल सर्दी में कोविड में सड़क पर खड़े थे। प्रधानमंत्री ने उनसे बात करने की कोशिश तक की? क्या उनसे पूछा कि मेरे से बात करो? क्या प्रधानमंत्री ने ये कहा कि मुझे समझाओ कि तुम कृषि कानून क्यों नहीं चाहते हो?

राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा ये किसान हैं, ये मजदूर हैं। मैं राजा हूं, राजा मजदूर और किसान से बात नहीं करता। राजा न सुनेगा ना बात करेगा। राजा न सुनेगा ना बात करेगा। राजा सिर्फ निर्णय लेगा। नरेंद्र मोदी सोचते हैं राजा निर्णय लेगा तो जनता चुप रहे। यदि जनता चुप नहीं रहेगी तो सीबीआइ, ईडी, पुलिस और पैगासस शुरू हो जाएगा। बड़े उद्योगपति के लिए बैंक के दरवाजे खुले होते हैं, हमारे लिए बंद हैं। आपने हमें कहा हमारा कर्जा वापस करो। हमने दस दिन में करके दिखाया। 70 हजार करोड़ रुपये का कर्जा माफ किया। हमने फ्री गिफ्ट नहीं दिया। हम समझे आप मुश्किल में हो। इसलिए मदद की। क्योंकि आप देश की मदद की। हम जानते हैं आपके बिना देश नहीं चलेगा। ये देश भूखा रह जाएगा।
उन्होंने कहा कि आप देश की नीव हो। यदि देश की नीव कमजोर होगी तो देश नहीं बचेगा। घोषणापत्र में हम चीजें लिखेंगे, लेकिन हमारी मानसिकता आपके साथ पार्टनरशिप बनाना चाहते हैं। हिंदुस्तान में जो पीएम नरेंद्र मोदी ने किसानों के साथ किया, आपको एक साल अकेला सड़क पर, सर्दी में कोविड के समय खड़ा कर दिया। कांग्रेस पार्टी मर जाएगी, खत्म हो जाएगी, कभी किसानों के साथ ऐसा नहीं करेगी। ये हम गारंटी देते हैं। हम ऐसी सरकार चाहते हैं, जिसमें किसान, मजदूरों और गरीबों को लगे ये हमारी सरकार है। जो भी हम कहना चाहते हैं, हम दिल खोलकर सरकार में मुख्यमंत्री को कह सकते हैं। ऐसी सरकार हम चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि कल गोवा में हमने न्याय योजना लॉंच की। निर्णय लिया सबसे गरीब लोगों को कांग्रेस पार्टी की सरकार सीधे खाते में पैसा हर माह देगी। ये ही उत्तराखंड में भी किया जाएगा। उन्हें लगे कि सरकार उनके साथ खड़ा है। यदि हमने घोषणापत्र में कुछ लिख दिया तो जो भी सीएम बनेगा, उसे लागू करने की उसकी गारंटी है। दूसरी तरफ नरेंद्र मोदी जी का भाषण याद है। दो करोड़ नौकरी दूंगा, काला धन मिटा दूंगा। जो गरीब का है वो अपने मित्रों को पकड़ा दूंगा।
इसके बाद राहुल गांधी हरिद्वार जिले में जवाहर लाल नेहरू युवा केंद्र में वर्चुअली रैली को संबोधित करेंगे। इन रैलियों का लाइव कार्यक्रम सभी 70 विधानसभाओं में प्रदर्शित किया जाएगा। इसके उपरान्त कांग्रेस नेता राहुल गांधी जी सायं पौने पांच बजे हरिद्वार में गंगा आरती में प्रतिभाग करेंगे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!