UKSSSC Paper Leak: भर्ती कांड में 03 कॉलेज का मालिक गिरफ्तार, फरार सरगना पर 02 लाख का ईनाम

UKSSSC Paper Leak देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह के सख़्त निर्देशों के क्रम में UKSSSC पेपर लीक मामले में स्पेशल टास्क फ़ोर्स उत्तराखण्ड (STF) की कार्रवाई लगातार जारी है। इस मामले में आज एसटीएफ ने 35वीं गिरफ़्तारी कर ली है।

गाजियाबाद में कराया कई अभ्यर्थियों को प्रश्न पत्र हल

उत्तराखंड STF द्वारा पेपर लीक मामले में गिरफ़्तार अभियुक्त संदीप शर्मा पुत्र स्वर्गीय राजेश शर्मा निवासी जुल्हान मोहल्ला जसपुर जनपद उधम सिंह नगर अभियुक्त ने अन्य अभियुक्त के साथ मिलकर गाजियाबाद एक फ्लैट में जनपद उधम सिंह नगर एवं जनपद हरिद्वार के कई अभ्यर्थियों को ले जाकर प्रश्न पत्र हल कराया गया था।

अभियुक्त के आयुर्वेदिक और पैरा मेडिकल सहित तीन कॉलेज

गिरफ्तार अभियुक्त के जसपुर और ठाकुरद्वारा में आयुर्वेदिक और पैरा मेडिकल सहित तीन कॉलेज हैं। अभियुक्त से पूछताछ और अन्य जानकारी के आधार पर दो दर्जन के करीब छात्रों को चिन्हित किया गया है। उत्तराखण्ड STF द्वारा गवाहों के बयान एवं तकनीकी साक्ष्य के आधार पर अभियुक्त को अरेस्ट किया गया। इस गिरफ्तारी से उत्तर प्रदेश में नकल माफियाओं के धामपुर के बाद गाजियाबाद में हुई नकल के सेंटर का पर्दाफाश करने में सफलता मिली है।

सचिवालय रक्षक परीक्षा मामले में 04 अभियुक्तों की जुडिशल रिमांड

इसके साथ ही यूकेएसएसएससी की स्नातक स्तरीय परीक्षा पेपर लीक मामले में पूर्व में गिरफ्तार चार अभियुक्तों की जुडिशल रिमांड की कार्यवाही भी सचिवालय रक्षक परीक्षा लीक मुकदमे में की गई है।

वन दरोगा परीक्षा मामले में 02 समेत 38 गिरफ्तार

वन दरोगा ऑनलाइन परीक्षा मामले में भी 2 अभियुक्त पहले गिरफ्तार हो चुके हैं। पिछले कुछ दिनों में इस प्रकार अलग-अलग दर्ज तीन मुकदमों में कुल 38 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

फरार सरगना मूसा पर दो लाख और योगेश्वर पर 01 लाख का ईनाम

मुख्यमंत्री उत्तराखंड के सख्त निर्देश हैं कि, किसी भी दोषी को बख्शा न जाए। इसके चलते पेपर लीक मामले में फरार दो अपराधी सादिक मूसा निवासी अंबेडकरनगर उत्तर प्रदेश पर दो लाख का ईनाम और योगेश्वर राव निवासी गाजीपुर उत्तर प्रदेश की गिरफ्तारी के लिए एक लाख का ईनाम पुलिस महानिदेशक द्वारा घोषित किया गया है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!