उत्तराखंड : रिटायर्ड दरोगा के दबाव में 10 साल की बच्ची पर मुकदमा! ये हैं पूरा मामला

हरिद्वार : हरिद्वार के रानीपुर में एक बेहद चौंकाने वाला मामला सामने आया है। पुलिस ने सरकार के दावों को भी झूठा साबित किया है। रानीपुर क्षेत्र के भूतवाला बाग में दो पक्षों के बीच हुई क्रॉस FIR में नया मामला सामने आया है। रिटायर्ड दरोगा की शिकायत दर्ज किए गए मुकदमे में 10 की छात्रा को आरोपी बनाया गया है। बात सामने आने पर रानीपुर पुलिस में हड़कंप मचा है, आला अधिकारियों ने भी मामले को गंभीरता से लिया है।

मामला क्षेत्र की भभूतवाला कालोनी का है। मोहल्ले में रहने वाले UP पुलिस से रिटायर्ड दरोगा और परिजनों का पड़ोसी बुजुर्ग दंपत्ति से गाड़ी खड़ी करने को लेकर विवाद हुआ था, जिसके बाद दोनों पक्षों में झगड़ा हो गया था। रानीपुर पुलिस ने शिकायत पर कार्रवाई करते दूसरे पक्ष के खिलाफ एससी एसटी सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया।

लेकिन, जिन लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है, उनमें दो नाबालिग छात्राएं शामिल हैं। एक छात्रा की उम्र त ऐप पर पढ़ें 10 वर्ष ही है। पीड़ित परिवार ने पुलिस पर एकतरफा कार्रवाई करने का आरोप लगाया है। पीड़ित परिवार का कहना है कि जांच के लिए मोहल्ले में आए पुलिस अधिकारी केवल एक पक्ष की ही बात सुनकर कार्रवाई कर रहे हैं।

नाबालिग छात्राओं को रिटायर्ड दरोगा की शिकायत पर नामजद किया गया। बताया कि गाड़ी खड़ी करने को लेकर रिटायर्ड दरोगा और उनके बेटे का कई परिवारों से पूर्व भी झगड़ा हो चुका है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!