उत्तराखंड: 10 जिलों में भर्ती होंगी 330 महिला होमगार्ड सिपाही, मानदेय और भत्ता भी बढ़ा!

देहरादून: राज्य में होमगार्ड ट्रैफिक व्यवस्था से लेकर चुनाव और अन्य जगहों पर तैनात किए जाते हैं। इतना ही नहीं दूसरे राज्यों में चुनाव ड्यूटी में भी होमगार्ड्स को भेजा जाता है। होमगार्ड राज्य की कानून व्यवस्था में अहम योगदान दे रहे हैं। ऐसे में होमगार्ड में महिला सिपाहियों की संख्या बढ़ाए जाने को लेकर सीएम धामी ने बढ़ा ऐलान किया है।

राज्य के 10 जनपदो-ऊधमसिंहनगर, पिथौरागढ, चम्पावत, अल्मोड़ा, बागेश्वर, चमोली, रूद्रप्रयाग, पौड़ी, उत्तरकाशी और टिहरी में महिला होमगार्ड्स स्वयंसेवको की एक-एक महिला प्लाटून (कुल संख्या-330) पदो पर भर्ती किए जाएंगे।

एक जनपद से दूसरे जनपद अंतरजनपदीय ड्यूटी और राज्य की सीमा में निर्वाचन ड्यूटी के साथ रैतिक परेड में तैनात होने वाले होमगार्ड्स स्वयंसेवको को 180 प्रतिदिवस भोजन भत्ता दिए जाने का फैसला भी लिया गया है।

होमगार्ड्स की ड्यूटी के 24 घंटे के भीतर घायल/बीमार होने वाले होमगार्ड्स स्वयंसेवको को पूरे सेवाकाल में चिकित्सालय में भर्ती होने पर अधिकतम 6 माह तक ड्यूटी भत्ता देने का भी सीएम धामी ने ऐलान किया है। इस तरह से होमगार्ड्स को मजबूत करने की दिशा में सरकार अहम कदम उठा रही है।

साथ ही अवैतनिक प्लाटून कमांडर के मानदेय में 1000 से 1500 रुपये प्रतिमाह, अवैतनिक सहायक कम्पनी कमांडर के मानदेय में 1200 से 2000 प्रतिमाह और अवैतनिक कम्पनी कमांडर के मानदेय में 1500 से 2500 रुपये प्रतिमाह की बढ़ोतरी की गई है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!