उत्तराखंड

अवैध खनन के खिलाफ विधानसभा अध्यक्ष का सख्त रुख, पूर्ण तरीके से खनन को बंद करने के अधिकारियों को दिए निर्देश

देहरादून। कोटद्वार विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत विकास कार्यों की समीक्षा और भविष्य की कार्य योजनाओं को लेकर उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खण्डूडी भूषण ने अपने देहरादून यमुना कॉलोनी स्थित सरकारी आवास में विभिन्न विभाग के अधिकारियों की बैठक बुलाई। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने अधिकारियों को जरूरी सुझाव एवं दिशा निर्देश दिए। साथ ही उनके द्वारा दिए गए निर्देशों पर हो रही लेटलतीफी को लेकर अधिकारियों को फटकार भी लगाई।

देहरादून यमुना कॉलोनी स्थित सरकारी आवास में विधानसभा अध्यक्ष ने विभागवार कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने मालन नदी पर क्षतिग्रस्त पुल को लेकर लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता से जानकारी मांगी। साथ ही विधानसभा अध्यक्ष से वैकल्पिक मार्ग की समय समय पर मरम्मत करने के भी निर्देश दिए। इस दौरान विधानसभा कोटद्वार की प्रस्तावित सड़को को जानकारी भी मांगी।
साथ ही उन्होंने निर्देश दिए की जनहित के कार्यों में किसी भी प्रकार से गुमराह ना करें और कार्य को दी गई समय सीमा पर पूर्ण करें इसके अलावा उन्होंने लोक निर्माण विभाग को बरसात के कारण सड़कों में पड़े गड्ढों को जल्द से जल्द दुरस्त करने के लिए कहा।

इस दौरान उपजिलाधिकारी को कोटद्वार में बढ़ते डेंगू के मामलो को देखते हुए प्रत्येक वार्ड की गली-गली तक छिड़काव एवं फॉगिंग लगातार प्रक्रिया में करते रहने के निर्देश दिए। साथ के साथ नगर में सफाई एवं स्वच्छता रखने की बात कही।

बैठक के दौरान विधानसभा अध्यक्ष अवैध खनन के मामलों को लेकर भी सख्त दिखी उन्होंने खनन अधिकारी पौड़ी को
अवैध खनन को पूर्ण रुप से बंद करने और नदियों के किनारे पेट्रोलिंग करने और अवैध खनन करने वालों पर उनका वाहन जब्त करने के साथ साथ कड़ी से कड़ी कारवाई करने के निर्देश दिए।

विधानसभा अध्यक्ष ने सिंचाई विभाग से कोटद्वार में आपदा में किए गए कार्यों की रिपोर्ट मांगी साथ ही सिंचाई विभाग के अधिकारियों को भाबर में किसानों को सिंचाई हेतु पर्याप्त पानी देने और क्षतिग्रस्त सिंचाई नहरों का कार्य निश्चित समय अवधि में पूर्ण करने के निर्देश दिए।

साथ ही विधानसभा अध्यक्ष ने भाबर क्षेत्र की सिंचाई हेतु प्रमुख कण्वाश्रम नहर, जो आपदा के दौरान क्षतिग्रस्त हो गई थी, उसपर युद्धस्तर पर पुनर्निर्माण का कार्य पूर्ण करने पर सिंचाई विभाग की सराहना भी की।

इस अवसर पर उप जिलाधिकारी सोहन सिंह सैनी, खनन अधिकारी रवि नेगी, अधिशासी अभियंता सिंचाई अजय कुमार, सहायक अभियंता सिंचाई विनोद कुमार सहायक अभियंता सिंचाई अनिल राठौड़, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग डीप सिंह, प्रभागिया वन अधिकारी (डीएफओ) नवीन पंत, अधीक्षण अभियंता मनोज कुमार सिंह मौजूद रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!