उत्तराखंड: चाकू से 35 वार कर हत्या का सनसनीखेज खुलासा, आरोपी ने बताई हैरान करने वाली वजह.. एक और मर्डर का था प्लान..

नैनीताल: कालाढूंगी के रिजॉर्ट में हुए सनसनीखेज हत्याकांड का नैनीताल पुलिस ने 24 घंटों मे खुलासा कर दिया है। मामले में अभियुक्त को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में अभियुक्त ने हैरान करने वाला खुलासा किया है। अभियुक्त ने 54 वर्षीय व्यक्ति पर ताबड़तोड़ 35 से अधिक वार किए थे।

मामले के अनुसार, बीते कल यानि बुधबार को थाना कालाढूंगी के बैलपड़ाव क्षेत्र अंतर्गत बक्सेन्ट रिसोर्ट पवलगढ़ बैलपड़ाव में 54 वर्षीय गिरीश चन्द्र त्रिपाठी की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। इस सूचना पर एस.पी. सिटी हल्द्वानी और क्षेत्राधिकारी रामनगर सहित थानाध्यक्ष कालाढूंगी राजवीर सिंह नेगी व चौकी प्रभारी बैलपडाव विरेंद्र बिष्ट के अलावा अधिनस्थ पुलिस बल मौके पर पहुंचा और घटनास्थल का जायजा लिया।

मामले में गठित पुलिस टीम को ज्ञात हुआ कि अभियुक्त अमन सैनी को होटल कर्मी राजेन्द्र डोबाल, सुरेश सनवाल, पुष्कर धामी व मृतक गिरिश चन्द्र त्रिपाठी छोटी – छोटी बातों को लेकर परेशान करते थे और लड़ाई झगड़ा करते हुए मारने को आते थे।

घटना वाले दिन यानि बुधबार को रिसोर्ट परिसर में राजेन्द्र डोभाल और मृतक गिरीश चन्द्र त्रिपाठी द्वारा मोबाइल मांगने के दौरान मोबाइल रिचार्ज को लेकर उक्त दोनो की उससे फिर लड़ाई- झगड़ा हो गया। इस पर उसने क्षुब्ध होकर दोनो व्यक्तियो को जान से मारने का इरादा बनाया। चूंकि राजेन्द्र डोबाल दुबला-पतला था। इसलिए उसने पहले मृतक गिरीश चन्द्र त्रिपाठी को मारने का मन बनाकर मृतक गिरीश को गार्ड रुम से सोने के बहाने ड्राईवर रुम ले जाकर, मृतक के लिए बीडी लाने हेतु बाहर जाना कहकर बक्सेन्ट रिसोर्ट के किचन में जाकर एक स्टील का और एक लोहे का चाकू पेट में छुपाकर लाया गया। साथ ही बीड़ी जलाने के बहाने मृतक के पास गया।

इसके बाद दोनो चाकूओ को तकिये के नीचे छुपाकर रख लिया। मृतक गिरीश चंद्र त्रिपाठी के सोने के 5 मिनट के बाद अभियुक्त ने अपने बायें हाथ में तकिया और दाहिने हाथ में चाकू लेकर तकिये से मृतक का मुंह दबाकर मृतक के पेट व पीठ पर लगातार कई वार किए, जिससे मृतक गिरीश चंद त्रिपाठी की मौके पर ही मौत हो गई।

इस सनसनीखेज हत्याकांड का अनावरण आज हरवंश सिंह,एस.पी. सिटी हल्द्वानी द्वारा प्रेस वार्ता के माध्यम से किया गया। पुलिस टीम में थानाध्यक्ष कालाढूंगी राजवीर सिंह नेगी, उ0नि0 बीरेन्द्र सिंह बिष्ट (चौकी प्रभारी बैलपड़ाव), उ0नि0 विजय कुमार (चौकी प्रभारी कोटाबाग), उ0नि0 गगनदीप सिंह, कानि0 544 नापु0 गगनदीप सिंह, कानि0 286 नापु0 नसीम अहमद, कानि0 477 वीरेन्द्र रौतेला, कानि0 452 नापु0 रविन्द्र सिंह, कानि0 226 नापु0 लेखराज सिंह, कानि0 466 नापु0 मिथुन कुमार, कानि0 368 नापु0 जसवीर सिंह, कानि0 413 नापु0 अमरेन्द्र सिंह शामिल रहे। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने पुलिस टीम के उत्साहवर्धन हेतु 5000/- रुपये नकद धनराशि पारितोषित हेतु घोषणा की है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!