UKSSSC पेपर लीक मामले में एक और शिक्षक गिरफ्तार, आरोपियों की जमानत के खिलाफ हाईकोर्ट जाएगी एसटीएफ

UKSSSC Paper Leak Case: उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग भर्ती पेपर लीक मामले में लगातार आरोपितों को जमानत मिल रही है। UKSSSC पेपर लीक मामले में अब तक 19 आरोपियों को देहरादून कोर्ट से जमानत मिल चुकी है। इसको लेकर अब उत्तराखंड स्पेशल टास्क फोर्स (STF) हाई कोर्ट जाने की तैयारी कर रही है। वहीं एसटीएफ में मामले में आज एक और गिरफ्तारी की है। यह इस मामले में 42वीं गिरफ्तारी है।

/

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देशानुसार परीक्षा लीक प्रकरण में संगठित गिरोह के मास्टरमाइंड पर कठोर कार्रवाई हेतु STF द्वारा हाईकोर्ट जाने की तैयारी की जा रही है। STF उत्तराखण्ड ने ऐसे संगठित गिरोह को चलाने वाले माफिया जिनकी जमानत न्यायालय द्वारा हुई है, उस आदेश के विरुद्ध उच्च न्यायालय में अपील की तैयारी कर ली है। ताकि जिन्हें जमानत मिली है, उस पर रोक लगाई जा सके।

आज गिरफ्तार हुआ अभियुक्त योगेंद्र सिंह

वहीं आज एसटीएफ द्वारा 42वें अभियुक्त को स्नातक परीक्षा लीक प्रकरण में गिरफ्तार किया गया है। यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में STF ने आज जो गिरफ्तारी की है, यह अभियुक्त योगेंद्र सिंह (46 वर्ष) उर्फ बंटी मूलरूप से ग्राम जितनपुर, थाना धामपुर का रहने वाला है। बताया जा रहा है कि आरोपी योगेंद्र सिंह केएम इंटर कॉलेज धामपुर में टीचर का कार्य करता है। आरोप है कि योगेंद्र की स्नातक परीक्षा पेपर लीक प्रकरण में संलिप्तता पाई गई है।

आरोपितों को जमानत मिलने के क्रम में आज शनिवार को अपर जिला जज चतुर्थ न्यायालय से अभियुक्त संजय राणा को जमानत मिल गई है। संजय राणा की गिरफ्तारी 3 सितंबर 2022 को हुई थी। एसटीएफ ने आरोपी संजय राणा की गिरफ्तारी के समय उसके घर से पेपर लीक से संबंधित कंप्यूटर प्रिंटर और अन्य दस्तावेज बरामद किए थे। आरोप है कि संजय राणा ने ही अपनी पत्नी सहित अन्य अभ्यर्थियों को पेपर लीक की कॉपी पीआरडी जवान मनोज जोशी से लेकर दी थी। अपर जिला जज चतुर्थ आशुतोष मिश्रा अदालत ने संजय राणा को एक लाख के निजी मुचलके और देश न छोड़ने की शर्त पर जमानत दी है। बता दें कि, पेपर लीक मामले में जेल में बंद 41 से अधिक अभियुक्तों में से अब तक 4 गैंगस्टर बलदेव रौतेला, मनोज जोशी, तनुज शर्मा और चंदन सिंह मनराल सहित 19 लोगों की जमानत हो चुकी है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!