Uttarakhand News: पत्नी ने प्रेमी संग मिलकर कर दी पति की हत्या, दोनों गिरफ्तार; पूछताछ में किया यह खुलासा

Uttarakhand Crime News: उत्तराखंड में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। देहरादून में तलाकशुदा पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पूर्व पति की हत्या कर दी। पूरा मामला अवैध संबंध, संपत्ति और रुपए से जुड़ा है। हत्याकांड में पुलिस ने मृतक की पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में अभियुक्त ने बड़े खुलासे किए।

सहसपुर के मकान में मृतक मिला व्यक्ति 

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, बुधवार 23 नवंबर को सांय करीबन 06ः00 बजे थाना सहसपुर पर सूचना मिली कि, ग्राम बालूवाला में एक मकान में एक व्यक्ति मृत अवस्था में पड़ा है। सूचना मिलने पर तत्काल थानाध्यक्ष सहसपुर ने मौके पर पंहुचकर घटना का निरीक्षण किया और मौके पर एसओजी एवं फौरेंसिक टीम को बुलाया। घटनास्थल का उच्चाधिकारियों ने भी निरीक्षण किया।

मृतक की बहिन ने अज्ञात के खिलाफ भाई की हत्या की दी तहरीर

घटना के सम्बन्ध में मृतक गुमान सिंह की बहिन पुष्पा देवी ने किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा अपने भाई की हत्या करने के सम्बन्ध में थाना सहसपुर पर प्रार्थनापत्र दिया। जिस पर तत्काल सुसंगत धाराओं मे अभियोग पंजीकृत किया गया। घटना की जांच के लिए थानाध्यक्ष सहसपुर द्वारा टीमें गठित की गयी, जिनको अलग-अलग कार्य बांटकर क्षेत्र में रवाना किया गया।

पुलिस ने खंगाले 45 सीसीटीवी कैमरों का फुटेज

जांच के दौरान आज 24 नवंबर को गठित टीमों ने सफल पतारसी सर्विलॉस और मार्गो पर लगे लगभग 45 कैमरों का फुटेज चैक किया, जिसमें घटना में संलिप्त अभियुक्त रणजीत सिंह नेगी को सहसपुर क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया।

मृतक की पत्नी ने पूछताछ में किया खुलासा

पूछताछ में मृतक की पत्नी आशा ने बताया कि, मेरा अपने पति मृतक गुमान सिंह से वर्ष 2013 में तलाक हो गया था और बच्चे मेरे पति के पास ही थे। उसने कहा कि, मेरा पति मेरे बच्चों व मेरा ख्याल नही रखता था और लगातार सम्पत्ति को बेचकर अपने ऐसो आराम पर खर्च कर रखा था। हाल ही में मेरे पति द्वारा बालूवाला में अपना मकान भी विक्रय किया गया है, जिसकी कुछ धनराशि मेरे पति ने प्राप्त कर ली थी और वह अपनी मौज मस्ती में खर्च की जा रही थी। उसने बताया कि, मुझे और मेरे बच्चों के मांगने पर भी कुछ नही दिया जा रहा था। साथ ही मेरे व मेरे बच्चों के साथ मारपीट करता था।

पूछताछ में मृतक की पत्नी आगे बताया कि, मैं अपना जीवन यापन सेलाकुई में काम करके चला रही हूं। इसी दौरान मेरी मुलाकात रणजीत सिंह नेगी से हो गयी थी, जिससे मेरे काफी नजदीकी सम्बन्ध हो गये थे। जिससे मैने अपने पति के बारे में चर्चा की और मैने अपने पति को रास्ते से हटाने की योजना बनायी।

अभियुक्त आशा यादव ने बताया कि, 22 नवंबर को हम दोनो ने गुमान सिंह को रास्ते से हटाने की योजना बनायी। जिसमें मैंने अपने पति को बालूवाला स्थित घर पर बुलाया। जहां पर मैंने अपने पति को खाने में नींद की गोली दी, जब वह सो गया तो हमने एक रस्सी से उसका गला घोटकर हत्या कर दी थी। साथ ही हम मृतक का मोबाईल फोन लेकर घटनास्थल से चले गये थे।

पुलिस ने घटना में प्रयुक्त मो0सा0 स्पलेण्डर नम्बर UK07BZ 5012, मृतक का मोबाईल फोन ओप्पो, घटना में प्रयुक्त दो मोबाईल फोन और घटना में प्रयुक्त रस्सी बरामद कर ली है।

अभियुक्त रणजीत सिंह नेगी पुत्र बचन सिंह, गजा जनपद टिहरी गढवाल का रहने वाला है, जो वर्तमान में सेलाकुई देहरादून में रह रहा है। जबकि, आशा यादव मृतक गुमान सिंह की पूर्व पत्नी भी सेलाकुई देहरादून में रहती है।

मामले में मार्गदर्शक अधिकारी कमलेश उपाध्याय, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण देहरादून, मिथिलेश कुमार, पुलिस अधीक्षक अपराध देहरादून और संदीप सिंह नेगी, क्षेत्राधिकारी विकासनगर रहे। जबकि पुलिस टीम में शंकर सिंह बिष्ट, प्रभारी निरीक्षक विकासनगर; गिरीश नेगी, थानाध्यक्ष सहसपुर; रविन्द्र नेगी, वरिष्ठ उप निरीक्षक सहसपुर; दीपक मैठाणी, वरिष्ठ उप निरीक्षक विकासनगर; दीपक धारीवाल, प्रभारी एस0ओ0जी0 ग्रामीण देहरादून; ओमवीर सिंह, चौकी प्रभारी सभावाला; भरत सिंह रावत, चौकी प्रभारी धर्मावाला; उप निरीक्षक ओमवीर सिंह, थाना सहसपुर; उप निरीक्षक निखिलेष बिष्ट, थाना सहसपुर; उप निरीक्षक राकेश पुण्डीर, थाना सहसपुर; का0 अमरेन्द्र, थाना सहसपुर; का0 मुकेश पुरी थाना सहसपुर, का0 रिंकेश, थाना सहसपुर; का0 प्रदीप, थाना सहसपुर; का0 सन्दीप, थाना सहसपुर; का0 नवीन, थाना सहसपुर; का0 राजकुमार, थाना सहसपुर; का0 कुलदीप सिंह, थाना विकासनगर; का0 बृजपाल थाना सेलाकुंई; का0 नवनीत सिंह नेगी, एस0ओ0जी0 ग्रामीण, का0 मनोज कुमार, एस0ओ0जी0 ग्रामीण और का0 सोनी कुमार, एस0ओ0जी0 ग्रामीण शामिल रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!